Oxygen Concentrator Kya Hota Hai | ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर क्या होता है?

1
596
Oxygen Concentrator Kya Hota Hai

कोरोना महामारी second wave में ऑक्सीजन की कमी देखने के लिए मिल रही हैं. मरीजो को अस्तपताल में भर्ती होने के लिए बेड नहीं मिल रहे हैं तो ऐसे में लोग अपने घर में ही ऑक्सीजन का इंतजाम कर रहे हैं. ऑक्सीजन की कमी पूरी करने के लिए देश में कॉन्सेंट्रेटर की डिमांड बहुत बढ़ गई हैं. लेकिन कुछ लोगो को इसकी जानकारी ही नहीं हैं कि Oxygen Concentrator Kya Hota Hai?

यदि आपको भी इसकी जानकारी नहीं हैं और जानने के इच्छुक हैं कि oxygen concentrator kya hota hai hindi mein. तो हमारे इस आर्टिकल के साथ अंत तक बने रहिए. यहाँ पर हम आपको Concentrator से जुड़ी हर जानकारी दे रहे हैं जैसे oxygen concentrator kya hota hai in hindi, ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का इस्तेमाल कौन कर सकता हैं, आदि.

Oxygen Concentrator Kya Hota Hai? ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर क्या होता है?

Oxygen Concentrator Kya Hota Hai? ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर एक तरह का डिवाइस हैं जो हवा में से ऑक्सीजन लेकर ऑक्सीजन मात्रा को बढ़ाता हैं. अब आप सोच रहे होंगे ये कैसे होता हैं. ये तो हम सबको पता ही हैं कि वातावरण की हवा में 78% नाइट्रोजन और 21% ऑक्सीजन होती है।

जैसा कि ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर के नाम से ही समझ आ रहा हैं कि ये वातावरण में से हवा लेकर उसमे से नाइट्रोजन को फेंक देता हैं और ऑक्सीजन को बढ़ा देता हैं. इसमें से ऑक्सीजन ठीक उसी तरह मानव शरीर में ट्रान्सफर होती हैं जैसे ऑक्सीजन सिलिंडर करता हैं.

ऑक्सीजन ट्रान्सफर करने के लिए हमे एक केन्युला (प्रवेशनी), ऑक्सीजन मास्क या नाक में लगाने वाली ट्यूबों की जरूरत पड़ती हैं. ऑक्सीजन सिलिंडर और Oxygen Concentrator में केवल थोडा फर्क हैं. ऑक्सीजन सिलिंडर को बार-बार रिफिल करना पड़ता हैं. जबकि Oxygen Concentrator को रिफिल करने की जरूरत नहीं पडती हैं.ये 24 घंटे, सातो दिन काम करता हैं और वातावरण में से ऑक्सीजन छानकर मानव शरीर की जरूरत पूरी करता हैं.

यह भी पढ़े : Oximeter Kitna Hona Chahiye | Pulse Oximeter Kitna Hona Chahiye

ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का इस्तेमाल कौन और कब कर सकता हैं?

यदि आप सोच रहे हैं कि आप जब भी अपने शरीर में ऑक्सीजन की कमी महसूस करे तो आप ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का इस्तेमाल करके ऑक्सीजन की कमी पूरी कर सकते हैं तो आप गलत हैं. हाल ही में पुणे के एनेस्थीसिया विभाग के प्रोफेसर और विभागाध्यक्ष प्रो. संयोगिता नाइक ने बी. जे. मेडिकल कॉलेज, पुणे में बात करते हुए अपना ब्यान जारी किया हैं कि Oxygen Concentrator का इस्तेमाल केवल covid के moderate मरीजो के लिए ही किया जा सकता हैं. या फिर उन केस में इस्तेमाल कर सकते हैं जहाँ पर अधिकतम 5 लीटर प्रति मिनट की ऑक्सीजन की जरूरत है.

अगर डॉ राजेश देशपांडे ने क्विंट की बात पर ध्यान दिया जाए तो उनके अनुसार अगर आपके ऑक्सीजन लेवल 90-94 के बीच हैं तो आप Oxygen Concentrator का इस्तेमाल कर सकते हैं. लेकिन अगर आपका ऑक्सीजन लेवल इससे भी कम हैं तो आपको केवल ऑक्सीजन सिलिंडर इस्तेमाल करने की ही सलाह दी जाती हैं. 

क्या कॉन्सेंट्रेटर घर पर इस्तेमाल किया जा सकता हैं?

डॉ. चैतन्य एच. बालाकृष्णन जो कि सेंट जॉन मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल, बैंगलोर के कोविड को-ऑर्डिनेटर हैं, ने हमारा ये संदेह भी दूर किया हैं. इन्होने 30 अप्रैल को पीआईबी द्वारा आयोजित एक वेबिनार में बताया हैं कि ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर बिना डॉक्टर की देख-रेख में इस्तेमाल करना काफी नुकसानदायक हो सकता हैं.

दरअसल covid-19 में मरीज को नुमोनिया हो जाता हैं जिसमे ऑक्सीजन लेवल 94 प्रतिशत हो जाता हैं, ऐसे में इन मरीजो को ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर के जरिये ऑक्सीजन देकर कमी पूरी की जाती हैं लेकिन इसकी केवल एक ही शर्त हैं कि इन मरीजो को हॉस्पिटल में ही एडमिट होना होगा. वरना इन्हें और ज्यादा तकलीफ़ झेलनी पड़ सकती हैं.

डॉक्टर चैतन्य की माने तो अगर मरीज को अस्त्पातल में बेड नहीं मिलता हैं तो ऐसे में उनका कॉन्सेंट्रेटर इस्तेमाल करना फायदेमंद हो सकता हैं. लेकिन इस बात का ध्यान रखना भी जरुरी हैं कि उनके फेफड़ो की हालत कैसी हैं.

भारत में ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटरों के बाजार का क्या हाल हैं?

covid-19 महामारी में ऑक्सीजन की मांग में एक बड़ा उछाल आया हैं. जिसकी वजह से ऑक्सीजन सिलिंडर और ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटरों की मांग काफी तेज़ी से बढ़ी हैं. जहाँ इंटरनेशनल ब्रांड ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटरों और ऑक्सीजन सिलिंडर का निर्माण तेज़ी से करके इनकी कमी को पूरा कर रहे हैं

वही विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के सेंटर फॉर ऑगमेंटिंग वॉर विद कोविद 19 हेल्थ क्राइसिस” ने एक कार्यक्रम शुरू किया हैं जिसके अंतर्गत बहुत से भारतीय start-up भी शुरू हुए हैं और उन्होंने भी कुशल ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटरों और ऑक्सीजन सिलिंडर का निर्माण करके भारत को सपोर्ट किया हैं. यदि एक ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर की कीमत उसकी क्षमता के आधार पर देखी जाए तो ये लगभग 30,000 तक बाज़ार में मिलते हैं.   

निष्कर्ष:

कोरोना महामारी की दूसरी लहर का देश में कहर जारी हैं. जहाँ भारत देश कोरोना पहली लहर से उभरा भी नहीं हैं वही कोरोना दूसरी लहर ने देश में चारों तरफ त्राहि-त्राहि मचा रखी हैं. covid second wave में ऑक्सीजन की भारी कमी देखी जा रही हैं जिसकी वजह से लोगो की लगातार मौत हो रही हैं. लेकिन ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर ऐसे लोगो के जीवन में वरदान बनकर साबित हो रहा हैं. इसकी वजह से लाखो लोगो की जान बच रही हैं.

अगर आप Oxygen Concentrator Kya Hota Hai से जुड़ी और जानकारी लेने के इच्छुक हैं तो हमारे पेज पर कमेंट करके हमे बताएं. हम आपके हर प्रश्न का उत्तर देंगे.

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here