Postpaid and Prepaid Difference In Hindi | Prepaid और Postpaid में अंतर

0
Postpaid and Prepaid Difference In Hindi

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि postpaid and prepaid difference in Hindi क्या होता है और दोनों में से कौन आपके लिए ज्यादा सहायक साबित होगा।

prepaid और postpaid यह सिम के दो प्रकार होते हैं। देखने में दोनों ही एक सामान लगते हैं, लेकिन इन दोनों में बहुत ज्यादा डिफरेंस है। prepaid Sim आम लोगों को ध्यान में रखकर डिजाइन की गई है, अर्थात बनाई गई है।

वहीं दूसरी और postpaid Sim का इस्तेमाल अधिकतर बड़े-बड़े बिजनेस करने वाले लोग करते हैं। और वह लोग करते हैं, जो कि ज्यादा इंटरनेट या सिम का प्रयोग करना पसंद करते हैं।

बहुत सारे लोग इनके बारे में नहीं जानते हैं, वह बस इतना जानते हैं। कि prepaid Sim में हमें पहले रिचार्ज करना होता है postpaid Sim में हमें बाद में रिचार्ज करना होता है इसके अलावा इनमें और भी बहुत सारे डिफरेंस होते हैं

इसलिए यदि आप जानना चाहते हैं Postpaid And Prepaid Difference In Hindi तो आज का यह आर्टिकल पूरा पढ़ें इसमें हमने आपको विस्तार से और सरल भाषा में समझाने की कोशिश की है।

Prepaid Sim क्या होती है?

अधिकतर लोग prepaid Sim का ही प्रयोग करते हैं यह अलग-अलग कंपनी की सिम होती है। जिसमें आप अपने सिम के माध्यम से कॉल कर सकते हैं। किसी को संदेश भेज सकते हैं। और इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हैं। इन सभी सुविधाओं का प्रयोग करने के लिए आपको पहले रिचार्ज करने की आवश्यकता होगी बिना रिचार्ज आप इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं।

prepaid Sim के रिचार्ज प्लान सामान्य तौर पर महंगे होते हैं और इसके अंदर आप इमरजेंसी में 10 से लेकर ₹15 तक का लोन ले सकते हैं और इसमें आपको अलग-अलग प्रकार के बहुत सारे प्लांट देखने को मिलते हैं जिनमें आपको अलग-अलग सुविधाएं देखने को मिल जाएगी

Postpaid Sim क्या होती है?

यह बिल्कुल ही prepaid Sim के उल्टा होता है, इसमें भी आपको वही सारी सुविधाएं देखने को मिलती है। जैसे कि आप सिम के माध्यम से किसी से भी बात कर सकते हैं, किसी को भी संदेश भेज सकते हैं। और इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हैं।

परंतु इसमें आपको सेवाओं का उपयोग करने के बाद महीने के अंत में बिल देना पड़ता है। जितनी भी सर्विस का प्रयोग आपने पूरे महीने में किया होगा उसका रिचार्ज आपको महीने के अंत में करना होगा जैसे कि हम इलेक्ट्रिसिटी बिल पे करते हैं। वैसे ही आप postpaid Sim का रिचार्ज कर सकते हैं।

Postpaid And Prepaid Difference In Hindi – Prepaid और Postpaid में अंतर

जैसा कि हम जानते हैं सिम दो प्रकार की होती है prepaid और postpaid Sim । दोनों ही सिम में बहुत सारे अंतर देखने को मिलते हैं। तो आइए एक-एक करके सभी अंतर के बारे में विस्तार में जानते हैं।

रिचार्ज मे अंतर

जैसा कि हमने आपको पहले ऊपर भी बता दिया है, कि prepaid Sim में हमें पहले ही रिचार्ज करवाना होता है। उसके बाद ही हम सर्विस का प्रयोग कर सकते हैं, परंतु postpaid Sim में हम पहले सर्विस का प्रयोग करते हैं सारी सुविधाओं का लाभ लेते हैं। उसके बाद ही हमें रिचार्ज करवाने की आवश्यकता होती है और इसी के साथ prepaid Sim के रिचार्ज postpaid Sim की रिचार्ज की तुलना में ज्यादा महंगे होते हैं।

वैलिडिटी में अंतर

इन दोनों सिम की वैलिडिटी में भी बहुत ज्यादा अंतर होता है। क्योंकि यदि आप prepaid Sim में रिचार्ज करवाते हैं, तो आप कंपनी की सर्विस का प्रयोग कर पाएंगे और यह सर्विस आपके रिचार्ज की वैलिडिटी पर निर्भर करेगी कि आप कितने महीने का रिचार्ज करवाते हैं

परंतु postpaid Sim में ऐसा बिल्कुल नहीं है। एक बार सिम खरीदने के बाद हर महीने आपका बिल आएगा जितनी भी आपने सर्विस इस्तेमाल की होगी, उसके हिसाब से इस प्रकार से prepaid Sim और postpaid Sim में वैलिडिटी का अंतर है।

रिचार्ज प्लान में अंतर – 

 prepaid Sim आम आदमियों के लिए काफी सस्ते प्लान होते हैं, परंतु जो व्यक्ति इंटरनेट का ज्यादा इस्तेमाल करता है। ज्यादा कॉल करता है उनके लिए postpaid Sim ज्यादा सस्ती पड़ती है, इसीलिए बिजनेसमैन लोग ज्यादा कॉल और इंटरनेट के चलते postpaid Sim का प्रयोग करते हैं।

पेमेंट में अंतर

यदि आप prepaid Sim में पेमेंट करना चाहते हैं, तो आप अपने सामान्य पेमेंट मेथड के माध्यम से कर सकते हैं इसके लिए आपको किसी भी प्रकार की कोई भी क्रेडिट कार्ड की आवश्यकता नहीं होगी।

परंतु इसी के उल्टा यदि आप postpaid Sim में पेमेंट करना चाहते हैं, तो उसमें आपको क्रेडिट कार्ड की जरूरत पड़ती है। आप बिना क्रेडिट कार्ड के सिम में पेमेंट नहीं कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : Paytm Postpaid Kya Hai | पेटीएम पोस्टपेड क्या है?

Prepaid और Postpaid के अलग-अलग फायदे –

prepaid Sim और postpaid Sim में आपको बहुत सारे अलग-अलग फायदे देखने को मिलते हैं। यदि आप prepaid Sim में बहुत ही ज्यादा इंटरनेट का उपयोग करते हैं यह फिर कॉल करते हैं। तो आपको इसके कुछ फायदे देखने को मिलते हैं।

परंतु postpaid Sim में ऐसा बिल्कुल नहीं है इसमें इंटरनेट को इस्तेमाल करने की एक limit होती है। जिसकी वजह से आप ज्यादा internet का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं।

हमें कौन सी सिम का प्रयोग करना चाहिए prepaid या postpaid?

यदि आप सामान्य व्यक्ति है। आप ज्यादा इंटरनेट एवं कॉल का प्रयोग नहीं करते हैं, तो आपको prepaid Sim का ही उपयोग करना चाहिए। क्योंकि इसके प्लान आपके लिए सस्ते पड़ेंगे लेकिन यदि आप एक बिजनेसमैन हैं, यहां आपको ज्यादा इंटरनेट की आवश्यकता होती है।

आपको दिन में ज्यादा कॉल या एसएमएस करने होते हैं तो आपको postpaid Sim लेनी चाहिए जिसमें इंटरनेट खत्म होने का कोई झंझट नहीं होगा। इसलिए आप अपनी आवश्यकता के अनुसार कोई भी सिम का प्रयोग कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको Postpaid And Prepaid Difference In Hindi से जुड़ी सभी जानकारी दे दी है। उम्मीद करते हैं, कि आपको हमारे द्वारा बताई गई जानकारी पसंद आई है।

अब आप समझ गए होंगे कि postpaid and prepaid में क्या-क्या अंतर होते हैं? यदि आपको हमारे द्वारा बताए गए यह जानकारी अच्छी लगी है तो इसे अपने दोस्तों में अवश्य शेयर करें यदि आपको इससे संबंधित कोई सवाल या हमारे लिए कोई सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में बताएं।

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद आपका दिन मंगलमय हो।

Previous articleTyping Speed Kaise Badhaye? टाइपिंग स्पीड कैसे बढ़ाएं?
Next articleMedical Store Kaise Khole | मेडिकल स्टोर कैसे खोलें?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here